Art of Living · Articles · Personality · Self-Healing · Stress Management

हेलन केलर के प्रेरक अनमोल वचन

हेलेन केलर अन्धी व बहरी होकर बहुत सफल जीवन जीती है एक दर्जन से अधिक पुस्तके लिखी एवं सारी दुनिया में प्रेरक गुरू के रूप में जानी जाती रही । जिसे 3 वर्ष एक शब्द सीखने में लगते हैं। वह 2बार हवाई जहाज उडाती हैं एवं पूरे विश्व में मानवता पर वार्ता के लिए बुलाई जाती हैं।उनके प्रेरक वचन:

  • आत्म विश्वास–    मैं जिसे खोज रही हूँ वह बाहर नहीं, मेरे भीतर है।
  • महत्वाकांक्षा-जिसका आकाश में उड़ने का इरादा हो वह  रेंगने के लिए कभी सहमत नहीं होता है।

    Helen Keller
  • जीवन–  यदि जीवन में सिर्फ खुशियां ही होती तो हम बहादुरी और धैर्य को जीवन में कभी नहीं सीख पाते।
  • –  मैं जीवन की अमरता में विश्वास करती हूँ क्योंकि मेरी इच्छायें कभी समाप्त नहीं होती।
  • विश्वास -यकीन करें, कभी कोई भी निराशावादी तारों को नहीं खोज पाता, न ही कोई अनखोजी   जगहों पर जा पाता और न ही कोई मानव नया स्वर्ग खोज पाता।
  • – ज्ञान , प्रेम, प्रकाश एवं लक्ष्य/सपना है।
  • प्रेम–  जीवन में सबसे सुन्दर व सर्वोंत्तम चीजें जो है वो दिखती नहीं है, न ही उन्हें छुआ जा सकता है। उसे सिर्फ ह्नदय में महसूस करना पड़ता है।
  • –  यह आश्चर्य है कि लोग बहुत सारा अच्छा समय दुर्जनों से लड़ने में बीता देते है। यदि ये लोग इसी समय और ऊर्जा को अपनो से प्रेम करने में लगाए तो दुर्जनों का अन्त स्वतः हो जायेगा।
  • प्रसन्न्ता–   जब आप प्रसन्न नहीं हो तो भी जीवन में करने के लिए बहुत कुछ है। जब तक आप दूसरों का दर्द कम कर सकते हो तब तक जीवन बेकार नहीं है।
  • -यद्यपि संसार दुःखों से भरा हुआ है लेकिन उसको जीतने के उपाय भी बहुत है।
  •    जीवन में सबसे दुर्भाग्यशाली वह है जिसके पास आँखें तो है लेकिन दृष्टिकोण  (वीजन) नहीं  है।
  • ऐकता – अकेले हम थोड़ा कर सकते है लेकिन मिल कर बहुत कुछ कर सकते है।

Related Posts:

हेलेन केलर की सफलता रहस्यः लक्ष्य तय करने पर अपंगता भी सहायक

14 वर्षीय लड़की जाँन आॅफ आर्क ने अवचेतन मन को विकसित कर फौज का नेतृत्व किया

मैंरे आदर्श एवं प्रेरणा स्रोत :डाॅ. स्टीफन हाॅकिंगमेरी आदर्श प्रेरणापुंज

तेजस्वी धावक विल्मा रुडोल्फअन्र्तप्रेरणा सुने और जीना सीखें

सफलता का पथ दिखाने वाली महत्वपूर्ण पुस्तकें


Advertisements
Art of Living · Life-Management · Stress Management · success

14 वर्षीय लड़की जाँन आॅफ आर्क ने अवचेतन मन को विकसित कर फौज का नेतृत्व किया

हमारी भूतपूर्व प्रधानमंत्री इदिंरा गाँधी की रोल माॅडल जाँन आॅफ आर्क थी। वह अपने कठिन समय में इसी से प्रेरणा प्राप्त करती थी।
फ्रँास का ब्रिटेन से एक सौ वर्षाें से युद्ध चल रहा था। दोनों देशों का जन-जीवन तबाह हो चुका था। ऐसे में एक साधारण किसान की अनपढ़ लड़की ने युद्ध की निरर्थकता एवं निरन्तर होती हानि को समझा। अवचेतन मन की शक्ति को विकसित कर उसने इस युद्ध का नेतृत्व किया। अपनी अवचेतन मस्तिष्क को जगाने वह प्रतिदिन ईश्वर से युद्ध की समाप्ति के लिए प्रार्थना करती थी। ईश्वर में उसका दृढ़ विश्वास था। उसने प्रार्थना के द्वारा परम शक्ति के साथ भावनात्मक संबंध विकसित किया । इससे उसका आत्मविश्वास विकसित हुआ। इस तरह उसने अवचेतन मस्तिष्क की शक्ति का प्रयोग अपने देश के पक्ष में किया।
एक दिन उसने  अन्तरात्मा की आवाज़ सुनी, ”तुम्हारा जन्म इस युद्ध की समाप्ति के लिये हुआ है।“  उसने अपनी अन्तरात्मा की आवाज पर विश्वास किया और सम्राट जाॅन डफन से मिली। इस पर उसका किसी ने विश्वास नहीं किया। तब उसने अपनी क्षमता की परीक्षा चर्च एवं सम्राट के दरबारियों के सामने उत्तीर्ण की। सबको विश्वास हो गया कि यह कोई साधारण लड़की नहीं है अपितु वह एक वरदान प्राप्त नायिका हैं। उसका जन्म लड़ाई की समाप्ति के लिये हुआ है।
उस चैदह वर्षीय गांव की अनपढ़ लड़की, जाॅन आॅफ आर्क  ;श्रवंद व ि।तबद्ध ने फ्रांसीसी सेना का नेतृत्व किया। उसने युद्ध लड़ा और 31 मई 1431 को जीवित जला दी गई। उसके बलिदान ने युद्ध को समाप्त कर दिया।

Related Posts:

सफलता प्राप्ति में साधनों की भूमिका

Intuition: Listen to Get Success

प्रबल इच्छा: सफलता का प्रारम्भिक सोपान

अवचेतन मन क्या है एवं इसका उपयोग कैसे करे

हेलेन केलर की सफलता रहस्यः लक्ष्य तय करने  पर अपंगता भी सहायक

Art of Living · Life-Management · Personality · Stress Management · success

हेलेन केलर की सफलता रहस्यः लक्ष्य तय करने पर अपंगता भी सहायक

विन्सटन चर्चिल ने हेलेन केलर को हमारे युग की सबसे बडी औरत कहा हैं। हेलेन केलर अन्धी व बहरी होकर बहुत सफल जीवन जीती है

एक दर्जन से अधिक पुस्तके लिखी एवं सारी दुनिया में प्रेरक गुरू के रूप में जानी जाती रही । जिसे 3 वर्ष एक शब्द सीखने में लगते हैं। वह 2बार हवाई जहाज उडाती हैं एवं पूरे विश्व में मानवता पर वार्ता के लिए बुलाई जाती हैं।

हेलन केलर से एक बार पूछा गया अन्धी होने से भी बडा बुरा क्या हो सकता हैं? तब उसने कहा कि लक्ष्यहीन होना दृष्टिहीन होने से बुरा हैं। यदि आपको आपके लक्ष्य का पता नही हैं तो आप कुछ नही कर सकते है। हमें दशा व दिशा का ज्ञान होना चाहिए ।इसी में से की राह निकल सकती हैं, रोशनी मिलेगी। हेलेन के पास लक्ष्य था इसलिए वह सफल हुई।

मार्क ट्वेन ने नेपोलियन एवं हेलेन केलर को एक बार गत सदी के दो महान व्यक्तियों में गिनाया । एक बाह्य बाधओ एवं श़त्रुओं का विजेता हैं तोदूसरा अपनी कमजोरियो व अपगंताकी विजेता हैं।

हेलेन केलर के प्रमुख प्रेरक वाक्य जो मुझे ऊर्जा देते हैं :

  • सुरक्षा ज्यादातर एक अन्धविश्वास हैं। यह न हमारे जीवन में है न प्रकृति में कहीं है।
  • साहस हैं तो जीवन है, अन्यथा कुछ भी नहीं ।
  • जब कभी एक दरवाजा बन्द होता हैं तो दूसरा दरवाजा खुलता हैं। मात्र धैर्य से उसे खोजने की जरूरत हैं।
Related Posts:

लक्ष्य बनाइये – फिर उनसे भी ऊँचे हो जाइये

स्टेफन हव्किंग

विल्मा रुडोल्फ

अंधी लड़की को  मेने  कैसे प्रेरित किया